Faridabad: सोसायटी को पॉलीथिन मुक्त बनाने की पहल, गेट पर दिये जा रहे कपड़े के बैग

पार्क एलिट सोसायटी की आरडब्ल्युए द्वारा पॉलीथिन बैग के इस्तेमाल पर पूरी तरह से रोक लगाने के लिए कई तरह के प्रयास किये जा रहे हैं। आरडब्ल्युए के पदाधिकारियों ने सोसायटी में स्थित दुकानदारों को जागरूक करना शुरू कर दिया था।

Faridabad

Faridabad: पॉलीथिन बैग और सिंगल यूज प्लास्टिक की आइटमों की वजह से पर्यावरण पर लगातार बुरा असर पड़ रहा है। जिसे लेकर केंद्र सरकार ने पॉलीथिन बैग और सिंगल यूज प्लास्टिक की 19 तरह की आइटमों पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है। जिला प्रशासन द्वारा इस मामले में लोगों को लगातार जागरूक भी किया जा रहा है। ग्रेटर फरीदाबाद स्थित पार्क एलिट सोसायटी ने सरकार के इस फैसले का समर्थन करते हुए पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए पॉलीथिन बैग का इस्तेमाल न करने का फैसला लिया है। आरडब्ल्युए द्वारा जहां सोसायटी के लोगों को जागरूक किया जा रहा है। वहीं लोगों को प्लास्टिक की जगह कपड़े के बैग का इस्तेमाल करने का अनुरोध भी किया जा रहा है।

पॉलीथिन मुक्त सोसायटी

पार्क एलिट सोसायटी की आरडब्ल्युए द्वारा पॉलीथिन बैग के इस्तेमाल पर पूरी तरह से रोक लगाने के लिए कई तरह के प्रयास किये जा रहे हैं। जिसके तहत प्रतिबंध लगाने से पहले ही आरडब्ल्युए के पदाधिकारियों ने सोसायटी में स्थित दुकानदारों को जागरूक करना शुरू कर दिया था। आरडब्ल्युए ने दुकानदारों को पॉलीथिन बैग की जगह सूती कपड़े के बैग का इस्तेमाल करने का अनुरोध किया था। आरडब्ल्युए के अनुरोध पर दुकानदारों ने पॉलीथिन बैग रखने बिल्कुल बंद दिये हैं। दुकानदार लोगों को सामान देते समय उन्हें भविष्य में कपड़े का बैग लेकर आने के लिए लगातार समझा भी रहे हैं।

ये भी पढ़ें: Faridabad: बिजली समस्या से त्रस्त होकर ग्रेटर फरीदाबाद के लोगों ने किया प्रदर्शन

आरडब्ल्युए की नई पहल

आरडब्ल्युए का मानना है कि लंबे समय से पॉलीथिन बैग का इस्तेमाल करने की वजह से लोगों ने कपड़े के बैग रखने बिल्कुल बंद कर दिये हैं। पॉलीथिन की वजह से बाजार में बैग लेकर जाने की लोगों की आदत भी अब नहीं रही है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए आरडब्ल्युए द्वारा फिलहाल 500 कपड़े के बैग बनवाए गए हैं। कपड़े के इन थैलों को सोसायटी के गेट के पास रखे एक बॉक्स में रखा गया है। बाजार जाते समय लोग इस बॉक्स से कपड़े का बैग लेकर जा सकते थे। खरीदारी के बाद लौट कर लोग अपनी सुविधा के अनुसार कपड़े के बैग को वापस उसी बॉक्स में डाल सकते हैं। आरडब्ल्युए द्वारा किये गए इस प्रयोग के परिणाम लगातार सामने आ रहे हैं। लोग बैग का इस्तेमाल करने के बाद वापस बॉक्स में डाल देते हैं।

जारी रहेगा प्रयास

पार्क एलिट प्रीमियम सोसायटी की आरडब्ल्युए के अध्यक्ष अवनिंद्र तिवारी ने बताया कि सिंगल यूज प्लास्टिक की वजह से पर्यावरण को नुकसान पहुंच रहा है। साथ इसकी वजह से कई तरह की परेशानियां भी उत्पन्न हो रही है। इसी वजह से सरकार ने इस पर प्रतिबंध लगाया है। सरकार के फैसले समर्थन करते हुए आरडब्ल्युए ने सोसायटी को पॉलीथिन बैग मुक्त घोषित किया है। फिलहाल आरडब्ल्युए ने 500 कपड़े के बैग मंगवाए हैं। जरूरत पड़ी तो बैग मंगवाए जाएंगे।park elite socity

Leave a Reply

Your email address will not be published.