तांबे के बर्तन में पानी से मिलते हैं अनेक स्वास्थ्य लाभ!

सदियों से तांबे के बर्तनों में खान-पान बेहतर स्वास्थ्य की कुंजी बताया जाता रहा है। आइए जानें, इसी बारें में कुछ बेहद ख़ास बातें।

न्यूज़ सेहत

तांबे के बर्तनों का उपयोग पुरातन काल से ही होता आया है। पहले लोग पानी रखने के लिए तांबे के बर्तनों का उपयोग करते थे। ऐसा माना जाता था कि तांबे के बर्तन में पानी रखने से इसके औषधिय गुणों के चलते पानी शुद्ध हो जाता था।

कुछ अर्सा पहले तक इस बात को बाज़ारवाद की नज़र लग गई थी। लोग पानी को साफ़ और कीटाणुमुक्त करने के लिए नई तरह की वॉटर प्यूरिफायर तकनीक तो इस्तेमाल करने लगे थे और तांबे के बर्तनों के प्रयोग को गुज़रे ज़माने की बात मानने लगे थे, लेकिन बाज़ार ने फिर करवट ली है और तांबे के बर्तन न सिर्फ चलन में लौटे हैं, बल्कि उनका रूप-रंग और डिज़ाइन एक से बढ़कर एक देखने को मिल रहे हैं। साथ ही वे वर्तमान की ज़रूरत से मेल खाते हुए हर ढंग में उपलब्ध हैं। सिर्फ इतना ही नहीं, अब तो वॉटर प्यूरिफायर में भी तांबे की मौजूदगी देखने को मिल रही है, जिसका प्रचार-प्रसार जमकर होता है।
तो चलिए, एक बार फिर से याद किया जाए खान-पान में तांबे के बर्तनों के इस्तेमाल के गुणों को।

तांबे के बर्तन में पानी रखने से पानी प्राकृतिक तरीके से शुद्ध हो जाता है। इसके लिए पानी की तांबे के बर्तन में कम से कम चार से छह घंटे रखना होगा। यह पानी में मौजूद कीटाणुओं को पूरी तरह से नष्ट करके पानी को शुद्ध कर देगा। बता दें कि तांबे में रोगाणुरोधी, एंटीऑक्सीडेंट, एंटी कार्सिनोजेनिक और कई प्रकार के खनिज विद्यमान होते हैं, जिसके कारण ये मानव स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है।

वज़न घटाने में मददगार

यदि आप नियमित रूप से तांबे के बर्तन में रखा पानी पीते हैं तो यह आपके पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में काफी मददगार साबित होगा। तांबा शरीर की अतिरिक्त वसा को भी खत्म करता है।

Also read: हड्डियों को देती हैं मज़बूती ये हेल्थ ड्रिंक्स

पाचन तंत्र होगा बेहतर

तांबे में ऐसे गुण पाए जाते हैं, जिससे यह हानिकारक बैक्टीरिया को नष्ट कर देता है, इसीलिए यदि तांबे के बर्तन में रखे पानी का सेवन किया जाए तो यह न सिर्फ अल्सर, अपच और पेट के संक्रमण से बचाता है, बल्कि आपके शरीर को डिटॉक्स करने का कार्य भी करता है। यह लीवर और किडनी को भी सुचारू रूप से काम करने में मदद करता है।

एनीमिया को देता है मात

तांबे के पानी की सबसे खास बात यह है कि यह हमारे शरीर में होने वाली अधिकांश प्रक्रियाओं के लिए बहुत फ़ायदेमंद होता है। तांबे के बर्तन में रखे पानी के नियमित सेवन से हमारे शरीर में नई कोशिकाओं के निर्माण में तेज़ी आती है, बल्कि यह शरीर में खून की कमी को भी पूरा करता है।

घावों को भरने में करता है मदद

तांबे में एंटी बैक्टीरियल, एंटी वायरल और एंटी इंफ्लेमेंटरी गुण होते है। इसलिए तांबे के बर्तन के उपयोग से हमारे शरीर की इम्युनिटी मज़बूत होती है। साथ ही यह चोट और घावों के जल्दी भरने में भी मददगार होता है।

त्वचा संबंधी रोगों में सहायक

आयुर्वेद की मानें तो तांबा एक ऐसी धातु है, जिसमें एंटी एजिंग गुण पाए जाते हैं। तांबे के बर्तन में रखा पानी पीने से त्वचा संबंधी समस्याएं दूर होती हैं और त्वचा में चमक आती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.