ताज़गी का एहसास जुटाइए बजट फ्रैंडली होम मेकओवर से

कुछ पैसों में अपने बेहद पास मौजूद इन मार्किट्स की बदौलत आप अपने घर को दे सकते हैं एक नया लुक और अपने आपको दे सकते हैं कुछ सजाने-संवारने, नया और रचनात्मक करने का एहसास।

ज़िंदगीनामा न्यूज़

नए साल पर क्या प्लान कर रहे हैं आप? कहीं दूर किसी वैकेशन पर जाने का इरादा है या कहीं और घूमने का। वैसे जब भी हम कहीं घूमने जाते हैं तो जितना मज़ा हमें आस-पास की जगह घूमने में आता है, ख़ूबसूरत नज़ारों को देखने में आता है, उतना ही दिलचस्प होता है होटल या किसी ख़ूबसूरत से रिसॉर्ट में ठहरना। हम जिस जगह स्टे करते हैं, हमें एक तरह के नएपन का एहसास उस जगह से भी होता है। वहां के सॉफ्ट-सॉफ्ट बेडिंग, कभी तेज़ तो कभी धीमी लाइट्स, कमरे में फैली मद्धम सी ख़ूशबू या किसी कोने में जलती अरोमा कैंडल्स, फ्लावर पॉट्स में सजे ताज़े फूल, किसी कॉर्नर पर सजा कोई ख़ूबसूरत सा डेकोरेटिव पीस, यानी कहने का मतलब कि कुल मिलाकर हमें एक नई ताज़गी का एहसास कराने में सिर्फ़ उस जगह का ही योगदान नहीं होता है, जहां हम घूमने जाते हैं, बल्कि इसमें उस जगह का भी एक ख़ास रोल होता है, जहां हम ठहरते हैं।

मान लीजिए कि आप दिल्ली में रहते हैं और नए साल के स्वागत के लिए आप चाहकर भी कहीं बाहर नहीं जा पा रहे हैं तो दिल छोटा करने की ज़रूरत नहीं है, हम आपको बता रहे हैं नए साल में होम मेकओवर (Home makeover) के ज़रिये अपने दिल की ख़ुशी अपने घर, अपने आस-पास ही जुटाने के तरीके। इसके लिए आपको बहुत ज़्यादा पैसे ख़र्च करने की ज़रूरत नहीं है, जितना कि किसी दूसरे शहर में जाकर घूमने की ट्रिप प्लान करने में आते हैं, बल्कि सिर्फ़ कुछ पैसों में अपने बेहद पास मौजूद इन मार्किट्स की बदौलत आप अपने घर को दे सकते हैं एक नया लुक और अपने आपको दे सकते हैं कुछ सजाने-संवारने, नया और रचनात्मक करने का एहसास। साथ ही कर सकते हैं अपने घर के इस नए लुक में एक प्यारी सी हाउस वॉर्मिंग पार्टी अपने बेहद क़रीबी और ख़ास दोस्तों के साथ और फिर निदा फ़ाज़ली साहब भी तो फ़र्माते हैं कि-

अपना ग़म लेके कहीं और न जाया जाए
घर में बिखरी हुई चीज़ों को सजाया जाए

तो चलिए, हम ले चलते है आपको दिल्ली के सरोजिनी नगर मार्केट, जनपथ और लाजपत नगर की गलियों में, जहां से आप अपने घर के लिए बेहद किफ़ायती दामों में कई ऐसी चीज़ों को ख़रीद सकते हैं, जो आपके घर को एक नया लुक देने में काम आ सकती हैं। हां, एक बात का ख़याल ज़रूर रखिएगा कि कई बार घर को बहुत सारी चीज़ों से भर देना भर काफ़ी नहीं होता, बल्कि ख़ास बात ये होती है कि आपने उन्हें सजाया कितनी रचनात्मकता से है, आपके नज़रिये में कितनी क्रिएटिविटी थी। सो यहां हम आपको जगह के बारे में बता रहे हैं, उनकी कीमत का थोड़ा अंदाज़ा दे रहे हैं, साथ ही उन्हें सजाने के लिए भी कुछ टिप्स हम आपको बता रहे हैं।

सबसे पहले हम चलते हैं जनपथ।

दिल्ली के दिल यानी कनॉट प्लेस से बिल्कुल लगा हुआ मौजूद है जनपथ मार्केट। अब अगर हम यहां के पुराने दुकानदारों की मानें तो यह मार्केट ब्रिटिश काल से ही अस्तित्व में है और तब यह सिर्फ़ एक लेन में ही हुआ करती थी, जहां से अक्सर महारानी का रथ गुज़रा करता था, जिसके चलते इसे क्वीन-वे भी कहा जाता था। आज़ादी के बाद इस जगह को नया नाम मिला, जनपथ। ख़ैर, ये तो ठहरी अतीत की बात। अब हम करते हैं वर्तमान की बात। दिल्ली के केंद्र में स्थित यह मार्केट राजीव चौक और जनपथ मैट्रो स्टेशन के बिल्कुल नज़दीक है। इस मार्केट में आपको अपने घर में सजाने के लिए लकड़ी, संगमरमर, तांबे, पीतल से बने कई ख़ूबसूरत सजावटी पीस आसानी से मिल जाएंगे। यहां कई ऐंटिक पीस भी आपको यहां मिल सकते हैं, बस चाहिए एक रचनात्मक तलाश से भरी नज़र। इनके अलावा यहां पर आपको कई ऐंटिक घड़ियां भी मिल सकती हैं, जो आपके घर में वक़्त को भी नायाब बना सकता है और ऐसी चीज़ तलाश करने के चलते आपकी च्वॉइस की दाद तो बनती ही है। इन चीज़ों की कीमत मात्र सौ रुपये से शुरू होकर दो हज़ार रुपये तक जाती है। वैसे नक़्काशी और बारीक़ काम ही आपको लुभाता है तो यह कीमत थोड़ी और ऊपर जा सकती है।

Also read | हैरत में पड़ जाएंगे आप मौन के लाभ जानकर

अब हम आपको ले चलते हैं सरोजिनी नगर मार्केट

कहते हैं कि बिस्तर कुछ लोगों के लिए सिर्फ़ सोने की जगह होता है और कुछ के लिए एक ऐसा कोना, जिसे अपनी रचनात्मकता से सजाकर अपने आराम और मानसिक शांति से भरपूर जगह बनाया जा सकता है। हालांकि इसके लिए काफ़ी योगदान वॉल पेंट का भी होता है। अगर आपका वॉल पेंट ठीक-ठाक है तो इसे आप आसानी से बेहतर बना सकती हैं और अगर नहीं तो आप किसी एक कॉर्नर पर ख़ूबसूरत से वॉल पेपर से भी आप नया लुक पैदा कर सकती हैं। सरोजिनी नगर की ख़ासियत ये है कि यहां आपको बहुत ही वाजिब दामों पर बेड शीट, कुशन कवर, गाव तकिये और पर्दे मिल सकते हैं, जिनकी शुरुआत महज़ साढ़े तीन सौ रुपये से है। इनकी मदद से आप अपने स्टडी रूम, बेड रूम या लिविंग एरिया को पहले से थोड़ा बेहतर बना सकते हैं।

अब हम चलते हैं लाजपत नगर मार्केट

किसी भी घर में रोशनी का इंतज़ाम कैसा है, यह बात मूड पर बहुत असर डालती है। साथ ही घर के कोने को आप जिस तरह से सजाते हैं, उससे आपकी रचनात्मकता भी उभरकर आती है। सो इन चीज़ों की तलाश जाकर पूरी होती है लाजपत नगर मार्केट में। यहां पर आपको क्रिस्टल के फाइन वर्क वाले डेकोरेटिल पीस मिल सकते हैं। शानदार और लुभावने लैंप मिल सकते हैं और होम डेकोर की कई छोटी-बड़ी चीज़ें जैसेकि छोटा सा बुक शेल्फ, वंदनवार वग़ैरह आपका मन लुभा सकती हैं। अगर आप मद्धम रोशनी के साथ कोई क्रिस्टल वर्क पीस, कुछ इनडोर प्लांट के साथ तालमेल बिठाकर सजा सकती हैं तो कहने ही क्या! आपका नज़रिया उस जगह की ख़ूबसूरती में भी झलकेगा।

अब ये तो हुई बाज़ार से किफ़ायती दामों पर ख़रीदे सामान की बात, मगर असल जादू तो जगाता है इन्हें सजाने का आपका ढंग। तो इंतज़ार किस बात का है। इस नए साल, नई सजावट से जुटाइए एक नयापन, जिसे सबसे पहले आपका दिल महसूस करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.