Delhi: लेन नियमों की अवहेलना पर परिवहन विभाग सतर्क, परिवहन मंत्री खुद उतरे सड़क पर

नजफगढ़ रोड पर परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gahlot) स्वयं यह देखने पहुंचे कि बस चालक लेन नियम का पालन कर रहे हैं या नहीं।

न्यूज़

Delhi: दिल्ली की सड़कों पर जाम की समस्या आम है। जाम का सबसे बड़ा और अहम कारण वाहन चालकों द्वारा लेन नियमों की अनदेखी करना है। इस समस्या को परिवहन विभाग ने बखूबी समझा और एक नियम बनाया कि बसें तय लेन में ही चलें। लेकिन नियम व जुर्माने के प्रावधान के बावजूद बस चालक लेन नियम के पालन में लापरवाही बरत रहे हैं।

पश्चिमी दिल्ली के लाइफ लाइन कही जाने वाली मेन नजफगढ़ रोड पर परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gahlot) स्वयं यह देखने पहुंचे कि बस चालक लेन नियम का पालन कर रहे हैं या नहीं। वे नजफगढ़ से गुजरने वाली तमाम सड़कों पर गए और बस चालकों से बात की। इस दौरान उनके साथ परिवहन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे।

तय हैं लेन, उल्लंघन करने पर जुर्माना

सरकार ने दिल्ली की प्रमुख सड़कों पर बस चालकों के लिए एक लेन का प्रावधान किया है। बस को हर हाल में इसी लेन पर चलाया जाना है। सुबह आठ बजे से रात दस बजे के बीच लेन नियमों का पालन जरूरी है। उल्लंघन करने पर वाहन को जब्त करने के साथ साथ अधिकतम 10 हजार रुपये जुर्माने का प्रावधान है।

द्वारका से लेकर राजौरी गार्डन के लोगों का है इस सड़क से वास्ता

नजफगढ़ मेन रोड का वास्ता द्वारका, जनकपुरी, विकासपुरी, राजौरी गार्डन, तिलक नगर, मोतीनगर, टैगोर गार्डन सहित अनेक जगहों से पड़ता है। इन इलाकों के लोग नई दिल्ली जाने के लिए इस मार्ग का इस्तेमाल करते हैं।

टी सी सागर

द्वारका निवासी टीसी सागर बताते हैं कि उपनगरी की चौड़ी सड़कों से निकलकर आप जैसे ही द्वारका मोड़ के रास्ते मेन नजफगढ़ रोड पर दाखिल होते हैं, आपका सामना भयानक जाम से होता है। यहां लेन नियमों का पालन कभी भी होते नहीं देखा है।

ये भी पढ़ें: Dwarka: साइबर धोखाधड़ी से बचने की द्वारका में पुलिस ने किया जागरूक

वीरपाल भाटी

इंद्रा पार्क निवासी वीरपाल भाटी का कहना है कि मेन नजफगढ़ रोड हो या पंखा रोड या फिर रिंग रोड, लेन नियमों के पालन में वाहन चालक अक्सर लापरवाही बरतते हैं। समस्या की वजह यह है कि लोगों को सिर्फ अपनी फिक्र होती है, पीछे चल रहे वाहनों के बारे में वे सोचना मुनासिब नहीं समझते।

पुरुषोत्तम कालरा

मियांवाली नगर निवासी पुरुषोत्तम कालरा कहते हैं कि लेन नियमों का पालन नहीं करने वाले वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। दिल्ली की सड़कों पर जाम का प्रमुख कारण सड़कों पर वाहनों को आड़े तिरछे चलाना है। इससे यातायात में व्यवधान होता है। खासकर बस चालक इन नियमों की सबसे अधिक अवहेलना करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.