द्वारका के इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय में मनाया गया डेंगू दिवस

निगम के जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कार्यक्रम में कहा कि डेंगू की रोकथाम से जुड़े जितने भी जरूरी उपाय हैं, उनसे लोगों को अवगत कराने के लिए शीघ्र ही एक जागरूकता अभियान चलाया जाएगा।

न्यूज़
Dengue Day celebrated at Indraprastha University, Dwarka

Dwarka: द्वारका स्थित इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय (IP ) में डेंगू दिवस (National Dengue Day) मनाया गया। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के नजफगढ़ जोन की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम में उपनगरी की कई आरडब्ल्यूए के पदाधिकारी मौजूद थे। सभी ने इस बात का प्रण लिया कि आपसी सहयोग से डेंगू को हर हाल में हराना है।

निगम के जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कार्यक्रम में कहा कि डेंगू की रोकथाम से जुड़े जितने भी जरूरी उपाय हैं, उनसे लोगों को अवगत कराने के लिए शीघ्र ही एक जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। यह एक पायलट प्रोजेक्ट की तरह होगा। यदि नतीजे अपेक्षा के अनुरूप रहे तो इसका विस्तार द्वारका से सटे इलाकों में भी किया जाएगा।

Also read | 80 साल के बुजुर्ग की बजाय लोग इन्हें कहते हैं 80 साल का युवा

कार्यक्रम में मौजूद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डॉ. महेश वर्मा ने कहा कि डेंगू को गंभीरता से लेने की जरूरत है। ऐसा इसलिए क्योंकि अभी तक इसका न तो कोई टीका है और न कोई दवा। इसे रोकने के लिए जागरूकता ही एकमात्र सहारा है। जरूरत इस बात की है कि इस मसले पर हम सभी साथ साथ आएं और सामूहिक प्रयास करें। सबसे जरूरी बात यह है कि पानी को कहीं जमा नहीं होने दें।

विश्वविद्यलय के कुल सचिव शैलेंद्र सिंह परिहार ने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन सामुदायिक सेवाओं के सदैव तैयार है। नजफगढ़ जोन के सहायक जनस्वास्थ्य अधिकारी डॉ. नवीन राज तुली, आईसीएमआर से जुड़े वैज्ञानिक डॉ. दिवाकर, नजफगढ़ ज़ोन के सहायक आयुक्त पतंजलि प्रकाश भी कार्यक्रम में मौजूद रहे। बता दें कि डेंगू पिछले एक दशक से पूरे देश के चिंता का विषय है। हर वर्ष 16 मई को डेंगू दिवस मनाया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.