द्वारका निवासियों के लिए अच्छी खबर, अतिविशिष्ट अस्पताल में कई नई सेवाएं हो रही शुरू

नई सेवाओं के तहत अब यहां सर्जरी शुरू की जाएगी। इसके अलावा कई नई ओपीडी भी यहां शुरू की जा रही है।

Delhi न्यूज़

Dwarka: करीब डेढ़ दशक के इंतजार के बाद उपनगरी द्वारका में इंदिरा गांधी अतिविशिष्ट अस्पताल खोला तो गया, लेकिन आधे अधूरे तरीके से। लेकिन अब धीरे धीरे इस अस्पताल को पूरी क्षमता के साथ खोलने की कवायद शुरू की जा रही है। नई सेवाओं के तहत अब यहां सर्जरी शुरू की जाएगी। इसके अलावा कई नई ओपीडी भी यहां शुरू की जा रही है।

ऑपरेशन थिएटर को खोलने की कवायद

अस्पताल में आपरेशन थिएटर को शुरू करने की कवायद शुरू हो गई है। संभावना है कि अगले दो माह के भीतर अस्पताल में मरीजों की सर्जरी हो सकेगी। मॉडयूलर ऑपरेशन थिएटर तो तैयार हो चुका है, बस मशीनों की खरीद होनी शेष है। मशीनों की खरीद से जुड़ी प्रक्रिया अंतिम चरण में है। अभी अस्प्ताल में मानइर ऑपरेशन थिएटर है। ऐसे में अभी यहां मरीजों को सर्जरी के लिए डीडीयू अस्पताल में रेफर किया जा रहा है। आपातकाल विभाग में भी माइनर आपरेशन थिएटर की सुविधा को शुरू कर दिया गया है।

कार्डियोलाजी व न्यूरोलाजी ओपीडी भी जल्द :

अभी अतिविशिष्ट स्वास्थ्य सेवाओं के लिए मरीजों को जनकपुरी स्थित अतिविशिष्ट अस्पताल का रुख करना पड़ता है, पर वहां एक दशक बाद भी पर्याप्त सुविधाएं नहीं है। ऐसे में मरीज आरएमएल, सफदरजंग अस्पताल का रुख करने को मजबूर है। पर अब इंदिरा गांधी अस्पताल में भी जल्द अतिविशिष्ट स्वास्थ्य सेवाएं शुरू होंगी। इसके लिए अस्पताल प्रशासन निरंतर प्रयास कर रहा है। प्रशासन की मानें तो जल्द ही कार्डियोलाजी व न्यूरोलाजी विभाग शुरू हो सकता है, इसके लिए अब तक कई बैठकें हो चुकी हैं और उम्मीद जताई जा रही है कि आगामी दो माह में इन दोनों की ओपीडी सेवा शुरू हो जाएगी। ओपीडी सेवाएं शुरू होने के बाद धीरे-धीरे दाेनों विभाग का विस्तार किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: Dwarka: उपनगरी के विकास से जुड़े मुद्दे को लेकर द्वारका फोरम ने मुख्य अभियंता से की मुलाकात

धीरे धीरे हो रहा सुविधाओं का विस्तार

पिछले महीने ही यहां आयुर्वेदिक व होम्योपैथिक ओपीडी शुरू किया गया था। इसके अलावा सोमवार व बुधवार को अस्पताल में मधुमेह व उच्च रक्तचाप मरीजों के लिए दोपहर दो से चार बजे के बीच में विशेष ओपीडी चलाई जाती है। नेत्र विभाग की ओर बुधवार व शुक्रवार को रेटिना व ग्लूकोमा जांच के लिए विशेषज्ञ ओपीडी दोपहर दाे से चार बजे के बीच में चलाई जाती है।

अभी यहां मिलती है ये सेवाएं

अस्पताल में अभी मेडिसीन, सर्जरी, हड्डी रोग विशेष, त्वचा विशेषज्ञ, आंख, ईएनटी, महिला रोग विशेषज्ञ, बाल रोग विशेषज्ञ, श्वास चिकित्सा विशेषज्ञ, मनोचिकित्सा विशेषज्ञ, फिजियोथेरेपी, व्यावसायिक चिकित्सक, आयुर्वेदिक व हाेम्योपैथिक ओपीडी चल रही है। ओपीडी में नियमित रूप से दो हजार मरीज चिकित्सीय परामर्श प्राप्त करने के लिए आ रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.