Greater Noida West: जनता को लुभा रही है जनता की थाली

Greater Noida West में ‘जनता की थाली’ के अंतर्गत केवल पांच रुपये में स्वादिष्ट भोजन परोसा जाता है। हर रविवार लोग इस ताज़े, स्वादिष्ट और स्वस्थ भोजन की प्रतीक्षा करते हैं।

न्यूज़

Grater Noida West: अगर आज के ज़माने की बात करें तो पांच रुपये में मिलता ही क्या है, लेकिन अगर बीते रविवार की ही बात करें तो ‘जनता की थाली’ (Janta ki Thali) के तहत लगभग 212 लोगों ने केवल 5 रुपये में परोसे गए ताज़ा, स्वादिष्ट और स्वस्थ भोजन का आनंद लिया।
जनता के लिए जनता की थाली परोसे जाने का सिलसिला काफ़ी समय से जारी है। इसी श्रृंखला में इस सप्ताह, चार मूर्ति चौराहे पर ताज़ा तैयार राजमा-चावल और गुलाब जामुन परोसे गए।

दरअसल नोएडा के इस क्षेत्र में न्यू ऐरा फ्लैट ऑनर्स वैलफेयर एसोसिएशन (नेफोवा) द्वारा समाज के ज़रूरतमंद लोगों को आहार उपलब्ध कराने के मकसद से इस योजना की शुरुआत की गई थी, जिसे नाम दिया गया, ‘जनता की थाली।’ यह पहल सोसायटी के सदस्यों के बीच काफी मशहूर हो गई है। हर रविवार लोग केवल 5 रुपये में परोसे जाने वाले इस भोजन के लिए प्रतीक्षा करते मिल जाते हैं। इस पहल का उद्देश्य वंचित वर्गों के लोगों और सभी ज़रूरतमंद व्यक्तियों की सेवा करना है, जो किफायती और अच्छे भोजन की तलाश में है।

ये भी पढ़ें: Greater Noida West: रात होते ही अंधेरे में डूब जाती हैं ग्रेटर नोएडा वैस्ट की सड़कें!

Credit: Supplied

नेफोवा की सदस्य ज्योति जायसवाल कहती हैं, ”जनता की थाली की लोकप्रियता दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। इस पहल को नए सदस्य लगातार अपना समर्थन दे रहे हैं। यह गर्व की बात है कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा तक के लोग हमारा समर्थन कर रहे हैं।” इस सप्ताह के अभियान में सुमित गुप्ता, शिप्रा गुप्ता, जागृति चौधरी, शशिबाला, डॉ अवनीश, प्रतीक गुप्ता, पल्लवी गुप्ता, ज्योति जायसवाल, विकास कटियार, सागर गुप्ता ने जनता को भोजन वितरण में सहयोग दिया और सक्रिय रूप से भाग लिया।

Credit: Supplied

नेफोवा के ही सदस्य विकास कटियार ने बताया कि इस बार का भोजन नेफोवा की महिला विंग की सदस्य शुभ्रा सिंह द्वारा प्रायोजित किया गया था, जो आम्रपाली लीजर वैली की निवासी हैं। अन्य सहयोगकर्ता विमला गुप्ता हैं, जो समृद्धि ग्रैंड एवेन्यू की निवासी हैं।

Credit: Supplied

विकास ने कहा, “यह जनता की थाली नेफोवा के सक्रिय सदस्य सुमित गुप्ता की मां विमला गुप्ता के जन्मदिन के उपलक्ष्य में तैयार की गई थी।”

Credit: Supplied

सागर गुप्ता की मां विमला गुप्ता कहती हैं, ”मैं खुशनसीब हूं कि हम अपने जन्मदिन पर इतने लोगों की सेवा कर सके। जनता की थाली से जुड़े सभी लोगों को मेरा आशीर्वाद।”

भोजन की थाली केवल पांच रुपये में उपलब्ध कराने का उद्देश्य यह भी है कि लोगों को कम से कम कीमत पर अच्छा आहार उपलब्ध हो सके। साथ ही इसका पांच रुपये मूल्य इसलिए रखा गया है कि मुफ्त में भोजन देकर किसी को उसकी विवशता का एहसास कराना हमारा मकसद नहीं है। मूल्य चुकाकर पाए गए इस भोजन से व्यक्ति के स्वाभिमान की भी रक्षा होती है। हालांकि यहां पर ज़रूरतमंद व्यक्ति निशुल्क आहार भी पा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.