यूरिक एसिड के मरीज हैं तो खानपान पर दें विशेष ध्यान, इन चीजों से करें परहेज

आजकल के दौर में सही प्रकार के खानपान के अभाव में हम कई प्रकार के रोगों से ग्रस्त हो जाते हैं। ऐसी ही एक समस्या है यूरिक एसिड का शरीर में बढ़ना।

न्यूज़ सेहत

Health Tips: आजकल के दौर में सही प्रकार के खानपान के अभाव में हम कई प्रकार के रोगों से ग्रस्त हो जाते हैं। ऐसी ही एक समस्या है यूरिक एसिड (uric acid) का शरीर में बढ़ना। जब भी हमारे शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा ज्यादा हो जाती है तो हमें कई प्रकार की बीमारियों होने का संभावना बढ़ जाती है। ऐसी ही एक समस्या है गठिया यानि गाउट। वैसे तो यूरिक एसिड मूत्र के जरिए हमारे शरीर से बाहर निकल जाता है, लेकिन जब शरीर में इसकी मात्रा बढ़ जाती है, तो यूरिक एसिड क्रिस्टल्स के रूप में जोड़ों और हड्डियों के बीच में जमा होने लगता है और हम गठिया की चपेट में आ जाते हैं।

यूरिक एसिड बढ़ जाने के कारण शरीर के जोड़ों में दर्द, गठिया, किडनी की परेशानी के अलावा और भी कई तरह की बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है। यूरिक एसिड बढ़ जाने पर सबसे जरूरी है कि आप अपने खानपान का विशेष ख्याल रखें। आइए सिटी स्पाइडी में जानते हैं कि यूरिक एसिड के मरीजों को किन किन चीजों से परहेज करना चाहिए।

मशरूम, पत्तागोभी और फूलगोभी का न करें सेवन

यूरिक एसिड के मरीजों को डॉक्टर पत्तागोभी, फूलगोभी, ब्रसेल्स, स्प्राउट्स और मशरूम न खाने की सलाह देते हैं। इन सब्जियों में प्यूरिन की मात्रा ज्यादा होती है जिससे यूरिक एसिड की समस्या बढ़ सकती है। इसलिए यदि यूरिक एसिड के मरीजों को इन चीजों से दूरी बना लेनी चाहिए।

ये भी पढ़ें: कैसे बचाएं बच्चों को गैज़ेट्स की आदत से

मांस और सी फूड से बनाएं दूरी

यूरिक एसिड से पीड़ित होने पर मांस और सी फूड से दूरी बनाए जाने की सलाह दी जाती है। नॉनवेज में प्यूरिन की मात्रा बहुत अधिक होती है। ऐसे में मांस और सी फूड का सेवन यूरिक एसिड की समस्या को और बढ़ा सकता है और गठिया का दर्द और बढ़ सकता है।

जंक फूड का इस्तेमाल भी बढ़ा देगा मुश्किलें

यूरिक एसिड के मरीज हैं तो जंक फूड, फास्ट फूड, तली भूनी चीजों, चटपटे खाद्य पदार्थ, सफेद ब्रेड, केक,  आइसक्रीम और खमीर युक्त भोजन से भी दूरी बना लेनी चाहिए। क्योंकि ऐसे पदार्थों का सेवन यूरिक एसिड की समस्या को और बढ़ा सकता है।

अधिक प्रोटीन वाली चीजों होंगी नुकसानदायक

यूरिक एसिड के मरीजों को अधिक प्रोटीन वाली डाइट से बचना चाहिए। खासतौर पर दूध, दही, राजमा, हरी मटर, पालक, दाल आदि का अधिक मात्रा में सेवन समस्या को और बढ़ा सकता है। यूरिक एसिड के मरीजों को दही का भी अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि दही में मौजूद ट्रांसफैट शरीर में यूरिक एसिड की समस्या को और बढ़ा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.