Delhi: सड़क किनारे पड़े कूड़े के ढेर से विकासपुरी लोगों का जीना हुआ मुहाल

Delhi: विकासपुरी से गुजरने वाली रोड नंबर 236 के किनारे जगह जगह जमा कूड़े के ढेर की समस्या से स्थानीय निवासी परेशान हैं। लोगों का कहना है कि यह समस्या यहां काफी पुरानी है।

न्यूज़

Delhi: विकासपुरी से गुजरने वाली रोड नंबर 236 के किनारे जगह जगह जमा कूड़े के ढेर की समस्या से स्थानीय निवासी परेशान हैं। लोगों का कहना है कि यह समस्या यहां काफी पुरानी है। कुछ वर्ष पहले जब लोगों ने इस मुद्दे पर सरकारी एजेंसियों का घेराव किया था, तो कुछ महीनों के लिए स्थिति सुधर गई थी। लेकिन अब फिर एक बार यह सड़क गंदगी के ढेर के चलते दुर्दशा का शिकार हो गई है।

सड़क किनारे हैं कई सोसायटी

करीब तीन किलोमीटर लंबे रोड नंबर 236 के किनारे विकासपुरी की कई आवासीय सोसाइटी हैं। इनमें मनोचा अपार्टमेंट, एयरपोर्ट अपार्टमेंट, एवरशाइन अपार्टमेंट, लोक विहार अपार्टमेंट, पंचदीप  अपार्टमेंट, पंचवटी अपार्टमेंट, समाजकल्याण अपार्टमेंट, अरुणोदय अपार्टमेंट, एसबीआई अपार्टमेंट शामिल है। इनमें हजारों की आबादी रहती है। सड़क किनारे दिल्ली सरकार का एक बड़ा स्टेडियम भी है।

ये भी पढ़ें: सरकार ने दिया Delhi की सड़कों को इलेक्ट्रिक बसों का तोहफ़ा

बदबू से परेशान हैं लोग

मनोचा अपार्टमेंट निवासी अचला मनोचा बताती हैं कि सड़क किनारे गुजरते ही बदबू का अहसास होने लगता है। सबसे बड़ी समस्या तब होती है जब अपार्टमेंट के ऐसे फ्लैट जिनकी खिड़की सड़क की ओर खुलती है, वे ताजा हवा के लिए जैसे ही खिड़की खोलते हैं, उनका सामना तेज बदबू से होता है। सबसे बड़ी बात यह है कि इससे इलाके की छवि खराब होती है। विकासपुरी निवासी शैलेंद्र बताते हैं कि एक सुनियोजित कॉलोनी में इस तरह की लापरवाही का नजर आना, दुखद है। सरकारी एजेंसियों को इस ओर ध्यान देना चाहिए। विकासपुरी निवासी अमित त्यागी बताते हैं कि स्वच्छ भारत अभियान देश भर में चलाया जा रहा है। लेकिन क्या इस अभियान से जुड़ी सरकारी एजेंसियों को इस समस्या के बारे में जानकारी नहीं है। यदि है तो वे कार्रवाई क्यों नहीं कर रहे।

लोक निर्माण विभाग ने अपनाई थी तरकीब

कुछ समय समय पहले लोक निर्माण विभाग ने उन स्थानों पर जहां जहां कूड़े के ढेर जमा थे, वहां एक चेतावनी सूचक बोर्ड लगाया था, जिसपर कूड़ा फेंकने वालों को चेतावनी दी गई थी। साथ ही लिखा था कि आप सीसीटीवी कैमरे की नजर में हैं। लेकिन यह तरकीब वक्त के साथ बेकार साबित हो रही है।

निगम पश्चिमी जोन के अधिकारियों का कहना है कि समस्या के स्थायी समाधान के लिए यहां कंपेक्टर मशीन लगाया गया, ताकि लोग खुले में कूड़ा नहीं फेंक सकें। इलाके में घर घर जाकर कूड़ा एकत्रित किया जाता है, लेकिन कूड़ा बीनने वाले यहां कूड़ा फेंक देते हैं। इस समस्या का समाधान किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.