Narak Chaturdashi 2022: जानिए क्यों मनाई जाती है नरक चतुर्दशी, क्या है पौराणिक महत्व, शुभ मुहूर्त

Narak Chaturdashi 2022: नरक चतुर्दशी या छोटी दीपावली दीवाली से एक दिन पहले मनाई जाती है। हिंदु मान्यता के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को छोटी दिवाली, नरक चर्तुदशी, काली चौदस या नरक निवारण चतुर्दशी के नाम से जाना जाता है। वैसे तो दीपावली का पर्व धनतरेस से ही शुरू हो […]

न्यूज़ संस्कृति

Narak Chaturdashi 2022: नरक चतुर्दशी या छोटी दीपावली दीवाली से एक दिन पहले मनाई जाती है। हिंदु मान्यता के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को छोटी दिवाली, नरक चर्तुदशी, काली चौदस या नरक निवारण चतुर्दशी के नाम से जाना जाता है। वैसे तो दीपावली का पर्व धनतरेस से ही शुरू हो जाता है लेकिन इस वर्ष नरक चर्तुदशी की तारीख को लेकर लोगों के बीच असमंजस की स्थिति है। असल में 23 अक्टूबर की शाम 6 बजकर 3 मिनट पर चतुर्दशी लगने के कारण छोटी दीवाली 23 और 24 अक्टूबर दोनों दिन मनाई जाएगी। इस दिन को नरक चतुर्दशी या रूप चतुर्दशी के नाम से भी जाना जाता है। छोटी दीपावली की शाम को घर के बाहर मृत्यु के देवता यमराज को दक्षिण दिशा में दीप दान किया जाता है। माना जाता है कि ऐसा करने से अकाल मृत्यु का भय नहीं रहता।

नरक चतुर्दशी को लेकर पौराणिक कथा

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार नरकासुर नामक राक्षस ने अपनी शक्ति के बल पर देवताओं, ऋषियों और 16 हजार एक सौ सुंदर राजकुमारियों को बंदी बना लिया था। नरकासुर को किसी स्त्री के हाथ से मरने का श्राप था। इसीलिए भगवान कृष्ण ने अपनी पत्नी सत्यभामा की सहायता से कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को नरकासुर का वध किया और 16 हजार एक सौ कन्याओं को आजाद कराया। तभी से नरक चतुर्दशी के पर्व मनाने की परंपरा शुरू हुई।

कब है नरक चतुर्दशी या छोटी दीवाली

इस वर्ष तिथियों के बढ़ने के कारण छोटी दीपावली 23 अक्टूबर की शाम से 24 अक्टूबर की शाम तक मनाई जाएगी। 24 अक्टूबर की शाम से अमावस्या लगने के कारण इस दिन दीपावली भी मनाई जाएगी। नरक चतुर्दशी को हर साल की कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाते हैं।

नरक चतुर्दशी तिथि और स्‍नान का शुभ मुहूर्त-

चतुर्दशी तिथि प्रारम्भ – अक्टूबर 23, 2022 को 06:03 पी एम बजे
चतुर्दशी तिथि समाप्त – अक्टूबर 24, 2022 को 05:27 पी एम बजे
अभ्यंग स्नान मुहूर्त – 05:06 ए एम से 06:27 ए एम
अवधि – 01 घण्टा 22 मिनट्स
नरक चतुर्दशी के दिन चन्द्रोदय का समय – 05:06 ए एम

Leave a Reply

Your email address will not be published.