Noida: एटीएस गांव और एमराल्ड कोर्ट के निवासी सुरक्षित अपने घरों में वापस पहुंचे

Noida: 9 साल की लड़ाई के बाद रविवार दोपहर ठीक 2:30 बजे सुपरटेक ट्विन टावर्स धराशायी कर दिए गए। नोएडा के ये अवैध ट्विन टॉवर्स दिल्ली की कुतुबमीनार से भी ऊंची इमारत हैं जिन्हें धराशायी किया गया। आस पास की जिन सोसायटी के निवासियों को 28 अगस्त को सुबह बाहर निकाला गया था उन्हें रात […]

Noida न्यूज़
Residents of ATS Village and Emerald Court moved back to their homes safely

Noida: 9 साल की लड़ाई के बाद रविवार दोपहर ठीक 2:30 बजे सुपरटेक ट्विन टावर्स धराशायी कर दिए गए। नोएडा के ये अवैध ट्विन टॉवर्स दिल्ली की कुतुबमीनार से भी ऊंची इमारत हैं जिन्हें धराशायी किया गया। आस पास की जिन सोसायटी के निवासियों को 28 अगस्त को सुबह बाहर निकाला गया था उन्हें रात 8 बजे से पहले अपनी सोसायटियों में प्रवेश न करने की ताकीद दी गई थी।

एटीएस गांव के एओए अध्यक्ष अतुल चतुर्वेदी कहते हैं, “सोसायटी के सभी सदस्यों को रात 8 बजे से पहले सोसायटी में प्रवेश नहीं करने का निर्देश दिया गया था। सभी सदस्य रात 8 बजे के बाद अपने घरों को वापस जाने लगे। इमारतों को कोई नुकसान नहीं हुआ, केवल हमारे चारदीवारी क्षतिग्रस्त हो गई।

पार्श्वनाथ प्रेस्टीज के एओए अध्यक्ष रजनीश नंदन कहते हैं, विध्वंस की प्रक्रिया को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया है, रविवार को सुबह 6 बजे से निवासियों ने हमारे सोसायटी से बाहर आना शुरू कर दिया था। टास्कफोर्स और नोएडा प्राधिकरण से मंजूरी मिलने के बाद, सुरक्षित रूप से लोग अपने घरों में वापस चले गए।

एडिफिस इंजीनियरिंग के प्रोजेक्ट मैनेजर मयूर मेहता कहते हैं, “कोई दुर्घटना नहीं हुई है। हमने एटीएस अध्यक्ष को पहले ही नुकसान के बारे में सूचित कर दिया है और कुछ फ्लैटों के शीशे और खिड़कियां टूट गई हैं। यह भी पढ़ें : Noida Twin Tower Demolished: नोएडा के ट्विन टावर पलक झपकते हुए ताश पत्तों के की तरह ढेर

 

Noida Twin Towers Deolition: आज गिरा दिया जाएंगे नोएडा के ट्विन टॉवर्स, जानिए इनसे जुड़ी जरूरी बातें

Leave a Reply

Your email address will not be published.