Dwarka में आइपी यूनिवर्सिटी के सामने फुटपाथ का इस्तेमाल करें, लेकिन जरा संभलकर

Dwarka सेक्टर 16 सी स्थित गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय (Indraprastha University) की ओर यदि आप जा रहे हैं तो जरा सतर्क रहें।

न्यूज़

Dwarka: द्वारका सेक्टर 16 सी स्थित गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय (IP Universiry) की ओर यदि आप जा रहे हैं तो जरा सतर्क रहें। कहीं ऐसा न हो कि आप फुटपाथ पर चल रहें हों और एकाएक खुद को फुटपाथ के बजाय नीचे नाले में गिरा पाएं। विश्वविद्यालय के प्रवेश द्वार से कुछ ही मीटर पहले फुटपाथ पर एक बड़ा सा गड्ढा बना है। यह इतना बड़ा और गहरा है कि आप इसमें आसानी से गिर सकते हैं।

यह हाल तब है जबकि यहां रोजाना सैकड़ों की संख्या में विद्यार्थी आते हैं। इसके अलावा विश्वविद्यालय में कार्य करने वाले लोग भी यहां आते हैं। जिस जगह गड्ढा है, उससे कुछ ही दूरी पर दिल्ली पुलिस की चौकी व कई कार्यालय स्थित हैं।

यहां सड़क के ठीक एक तरफ सेक्टर 17 की आवासीय सोसाइटी है। यहां रहने वाली सविता बताती हैं कि डीडीए को फुटपाथ की मरम्मत की ओर ध्यान देना चाहिए। समय के साथ उपनगरी में एक जगह नहीं बल्कि अनेक जगहों पर फुटपाथ की दयनीय दशा नजर आती है। कई जगह फुटपाथ को ढकने में प्रयुक्त होने वाले स्लैब नहीं है। कई जगह नए स्लैब लगाए गए हैं, लेकिन बीच में एक दो स्लैब नहीं लगाया गया है। यह स्थिति ज्यादा खतरनाक है।

ये भी पढ़ें: Dwarka: में इमारत की दीवार ढही, एक की मौत

द्वारका निवासी माधव बताते हैं कि डीडीए हो या अन्य सरकारी एजेंसी उनका ध्यान वाहन चालकों को दी जाने वाली सुविधाओं की ओर रहता है लेकिन सड़क किनारे फुटपाथ का इस्तेमाल करने वाले राहगीरों की ओर नहीं होता है। यह गलत बात है। क्या पैदल चलने वालों की सुरक्षा की जिम्मेदारी सरकारी एजेंसियों की नहीं है।

द्वारका फोरम के एएस छतवाल बताते हैं कि द्वारका परियोजना के मुख्य अभियंता के साथ बैठक में उपनगरी के जर्जर फुटपाथ का मामला उठाया जाएगा। यह तब तक उठाया जाता रहेगा, जब तक कि इस समस्या का समाधान सुनिश्चित नहीं हो जाता। डीडीए अभियंता से जब इस संबंध में बात की गई तो उन्होंने कहा कि उपनगरी में जहां जहां इस तरह की समस्या सामने आती है, उसके समाधान की दिशा में कार्य किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.