द्वारका फाेरम के प्रतिनिधिमंडल ने उद्यान विभाग के उप निदेशक से की मुलाकात, साैंपा ज्ञापन

द्वारका में उद्यान विभाग से जुड़े विभिन्न मुद्दों को लेकर द्वारका फोरम (Dwarka Forum) का प्रतिनिधिमंडल डीडीए उद्यान विभाग के उप निदेशक से मिला और उनके साथ चर्चा की।

Continue Reading

Dwarka: पेड़ों की टहनियों से अब ओझल नहीं होगी द्वारका की लाल बत्ती

यातायात पुलिसकर्मी ने इसको गंभीरता से लिया और डीडीए के साथ मिलकर लाल बत्ती के आसपास फैले पेड़ की टहनियों की छंटाई का कार्य शुरू किया।

Continue Reading

सेंट्रल वर्ज पर लगे ग्रिल की नहीं होती देखरेख

अभी जिन जगहों पर ग्रिल अपने जगह से उखड़े हैं, वहां यदि इनकी मरम्मत जल्द नहीं कराई गई तो नशेड़ी इसे उड़ाने में वक्त नहीं लगाएंगे।

Continue Reading

जनकपुरी का नेबरहुड पार्क, पार्क कम जंगल ज्यादा

जनकपुरी स्थित डेसू कालोनी के नजदीक डीडीए का नेबरहुड पार्क वर्षों से उपेक्षित पड़ा है।

Continue Reading

लापरवाही की भेंट चढ़ रहे दिशा व स्थान सूचक बोर्ड

मुख्य सड़कों पर दिशासूचक बोर्ड लगाने का उद्देश्य लोगों को बिना किसी परेशानी के उचित गंतव्य तक पहुंचाने से है, लेकिन लोक निर्माण विभाग व दिल्ली विकास प्राधिकरण की लापरवाही के चलते क्षेत्र में जगह-जगह दिशासूचक व स्थान सूचक बोर्ड जर्जर हो चुके हैं।

Continue Reading

Delhi के ये ओपन जिम हैं बीमार, नहीं हो रही देखभाल

दिल्ली विकास प्राधिकरण ने करीब सात वर्ष पहले पार्कों में ओपन जिम लगाए थे, ताकि यहां कोई भी व्यक्ति आकर व्यायाम कर सकें, लेकिन अधिकांश जगहों पर ओपन जिम में लगे उपकरण देख-रेख के अभाव में दम तोड़ रहे हैं।

Continue Reading
These bio toilets of Janakpuri are not being used, DDA is not worried

Janakpuri के इन बायो टॉयलेट का नहीं हो रहा इस्तेमाल, DDA को नहीं फिक्र

करीब सात वर्ष पूर्व जनकपुरी स्थित डिस्ट्रिक्ट पार्क में DDA (दिल्ली विकास प्राधिकरण) ने लोगों की सहूलियत के लिए जगह-जगह बायो टॉयलेट (Bio toilet)बनवाए थे, जो कि बनवाने जाने के बाद सात दिनों के भीतर ही अनुपयोगी साबित होने लगे।

Continue Reading

द्वारका में फुटओवर ब्रिज और सबवे का न होना बन सकता है बड़े हादसे की वजह

द्वारका में इन स्थानों पर फुटओवर ब्रिज और सबवे का न होना यहां किसी भी समय एक बड़े हादसे की वजह बन सकता है। इसी विषय में हाल ही में स्थानीय लोगों ने अपनी आवाज़ बुलंद की।

Continue Reading