अगर जा रहे हैं सफ़र पर तो इस तरह के खाने से कीजिए परहेज़!

अगर आप सफ़र पर जा रहे हैं तो खाने-पीने के मामले में एडवेंचर करने की बजाय आप इन सावधानियों का करें पालन, वर्ना आपका हिंदी का सफ़र बदल सकता है अंग्रेज़ी के सफर में।

घुमक्कड़ी न्यूज़

गर्मियां अपने शबाब पर हैं और गर्मियां आते ही हमसे बहुत से लोग किसी हिल स्टेशन या घर से कहीं दूर जाने का प्लान बनाने लगते हैं। निश्चित ही गर्मियों में किसी हिल स्टेशन या किसी ऐतिहासिक शहर में जाना न सिर्फ हमारे मनोमस्तिष्क को सुकून देता है, बल्कि कुछ बेहतरीन यादें जुटाने में भी मददगार साबित हो सकता है।

यात्रा की योजना बनाने में ठहरने से लेकर परिवहन के साधन तक कई महत्वपूर्ण निर्णय होते हैं, जिनका हमें खास ध्यान रखना होता है। इन्हीं में से एक है यात्रा के दौरान भोजन का खास ध्यान रखना। यात्रा के दौरान बिना सोचे- समझे भोजन करना आपको बीमार कर सकता है और आपकी छुट्टियों को बर्बाद कर सकता है।

प्रोसेस्ड फूड से बचें

प्रोसेस्ड फूड में डिब्बाबंद या फ्रोजन फ्रूट शामिल होते हैं, जिनमें प्रिजर्वेटिव हो सकते हैं। वैसे तो ये फूड यात्रा पर   एक आसान विकल्प के तौर पर जाने जाते हैं, लेकिन इनमें चीनी और कैलोरी की मात्रा अधिक होती है। अत्यधिक प्रोसेस्ड फूड यात्रा के दौरान आपको पेट की परेशानी दे सकते हैं।

जामुन

जामुन जैसे फल हालांकि खाने में स्वादिष्ट होते हैं, लेकिन ये यात्रा के लिए उचित नहीं है, क्योंकि इनके ऊपर कोई सुरक्षात्मक आवरण नहीं होता। स्थानीय विक्रेताओं से खरीदने के बाद इनका सीधे सेवन से बचना चाहिए, क्योंकि ये कई बार कीट वाहक बैक्टीरिया या वायुमंडलीय धूल के संपर्क में आए होते हैं।

मांस और सी फूड

जहां तक संभव हो, यात्रा के दौरान मांस और समुद्री भोजन से भी बचना चाहिए, क्योंकि ये काफी भारी होते हैं और आसानी से नहीं पचते। इसके अलावा बस या ट्रेन से यात्रा के दौरान चूंकि आप ज्यादा चल-फिर भी नहीं सकते, इसलिए इस प्रकार का भोजन आपको अपच या पेट से संबंधित किसी अन्य प्रकार की समस्या दे सकता है।

डेयरी उत्पाद

अधिकांश भारतीय मिठाइयां डेयरी उत्पादों से बनी होती हैं और हम इन्हें चखने का मौका नहीं छोड़ते, लेकिन यात्रा के दौरान इनसे बचना ही बेहतर होता है। हमें जानकारी नहीं होती कि इन उत्पादों को बनाने के लिए किस प्रकार के दूध का इस्तेमाल किया गया है। कई बार डेयरी उत्पादों में उन मवेशियों के दूध का भी इस्तेमाल होता है, जिनमें किसी प्रकार की बीमारी हो और ये यात्रा के दौरान हमारे लिए समस्या का सबब बन सकती है।

फ्रोजन फूड

यात्रा के दौरान फ्रोजन फूड एक अच्छा विकल्प हो सकते हैं, क्योंकि हमें उन्हें पकाना नहीं पड़ता। हालांकि उनमें भी बैक्टीरिया हो सकते हैं, जिसकी हम कभी कल्पना भी नहीं कर सकते। डिब्बाबंद या फ्रोजन फूड को खोलने के दौरान भी वे बैक्टीरिया से संक्रमित हो सकते हैं, इसलिए इनके सेवन से पहले बहुत अधिक सावधानी की ज़रूरत होती है।

कच्ची सब्ज़ियां

कटी हुई कच्ची सब्ज़ियां जल्दी प्रभावित हो सकती हैं या सूख सकती हैं, इसीलिए यात्रा के दौरान सैंडविच या सलाद आदि का जल्द से जल्द सेवन कर लेना चाहिए। बाज़ार से कटे हुए फलों या सब्ज़ियों का लेना हमेशा ही असुरक्षित होता है।

क्या खाएं : यात्रा के दौरान कम तेल और ताजे गेंहू के आटे से तैयार उत्पाद सबसे अच्छे विकल्प माने जाते हैं। इसके अलावा आप प्लेन सैंडविच और फल चुन सकते हैं। यह आपको पूरे सफ़र में तरोताज़ा रखेंगे। इसके अलावा यात्रा के दौरान खूब पानी ज़रूर पिएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.